टमी कम करने के उपाय और आयुर्वेदिक दवा

टमी कम करने के उपाय
9:00 am / chetan gupta / 0 comments
Category:
Weight Loss

यदि आप टमी कम करने के उपाय खोज रहे हैं और इसका हल पाना चाहते हैं, तो इस आर्टिकल में हमने पूरा प्रयास किया है कि आपको आपके टमी कम करने के उपाय से संबंधित हर सवाल का जवाब दे सकें।

अगर आप बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय या कमर पतली करने के उपाय या पेट और कमर कम करने के तरीके का सही आयुर्वेदिक इलाज चाहते हैं इस आर्टिकल को अवश्य पढ़ें।

जैसा कि हम जानते हैं कि अगर आपका शरीर स्वस्थ नहीं है, तो आपका जीवन अधूरा है।

कोई भी काम सफलतापूर्वक तभी अच्छे से होता है, जब तन और मन दोनों से किया जाए और इसके लिए दोनों का स्वस्थ होना भी अनिवार्य है।

पर आजकल की व्यस्त दिनचर्या के कारण हम यह देख सकते हैं, देश में आधे से ज्यादा लोग किसी ना किसी रोग से परेशान हैं।

हम अपने बचपन से एक ही बात सुनते आ रहे हैं, “प्रथम सुख निरोगी काया” होता है।

पर फिर भी जाने अनजाने में हम गलत जीवनशैली के कारण अपने शरीर को रोगी बना रही हैं।

टमी बढ़ने के कारण और बीमारी

आपको यह जानकर हैरानी होगी की टमी बढ़ने की वजह से होने वाली बीमारियों के कारण भारत व्यक्ति के जीवन जीने की औसत उम्र कम हो रही है।

इसलिए हमको टमी कम करने के उपाय की सर्वाधिक आवश्यकता है।

मोटापा और टमी बढ़ने की वजह से बहुत प्रकार की बीमारियां होती है, जिनमें से हार्ट अटैक और डायबिटीज की संभावना सबसे ज्यादा रहती है।

एक शोध में इस बात की पुष्टि हुई है कि वजन और टमी बढ़ने के पीछे का मुख्य कारण हमारी और अस्वस्थ दिनचर्या और हमारा आलस है।

इन्हीं दोनों चीजों की हक वजह से हम अपने शरीर पर अधिक ध्यान नहीं दे पा रहे, उसके साथ तला हुआ खानपान भी एक टमी बढ़ने के पीछे की वजह है।

टमी कम करने के उपाय

आजकल के दौर पर हम यहा देख सकते हैं, की बीमारियों के उपचार बहुत अधिक महंगे हो गए हैं।

जिसके कारण एक आम व्यक्ति तब तक अस्पताल नहीं जाता जब तक उसकी जान पर ना आ जाए।

अगर आप समय रहते बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय को अपना ले तो आप अपने मोटापे पर नियंत्रण पा सकते हैं।

तो आप बहुत सी गंभीर बीमारियों से अपने आप को बचा सकते हैं।

आज हम आपको कुछ ऐसे ही टमी कम करने के उपाय के बारे में विस्तार से जानकारी देने जा रहे हैं।

जिसकी मदद से आप बिना अपने महीने की अर्थव्यवस्था बिगाड़े अपने शरीर का वजन और टमी दोनों को कम कर सकते हैं।

टमी कम करने के उपाय Infographic

टमी कम करने के उपाय Infographic
टमी कम करने के उपाय

खानपान पर नियंत्रण

अगर हम अपने खान-पान पर विशेष ध्यान दे तो इसकी मदद से हम बढ़ा हुआ पेट को कम कर सकते हैं।

हमारे स्वास्थ्य के लिए फास्ट फूड बहुत ही ज्यादा हानिकारक होता है और हमारे शरीर और टमी की चर्बी बढ़ने का यह एक विशेष कारण है।

हम अपने शरीर में क्या डाल रहे हैं हमें इस बात पर पूरा नियंत्रण होना चाहिए और तला हुआ भोजन हमारे शरीर की चर्बी के साथ-साथ कैस्ट्रोल लेवल को भी बढ़ाता है।

अगर आप टमी कम करने के उपाय को बेहतर बनाना चाहते हैं, तो हमेशा घर में बना हुआ भोजन ही खाएं और हो सके तो सप्ताह में एक बार उपवास जरूर करें।

यह भी पढ़ें:

मोटापा कम करने की दवा | आयुर्वेदिक औषधि

बढ़ा हुआ पेट कम करने के लिए व्रत का सहारा

टमी कम करने के लिए उपवास करने के बहुत से फायदे होते हैं, जैसे –

सप्ताह में 1 दिन के उपवास करने से हमारे पाचन तंत्र को राहत मिलती है।

जिसकी की मदद से यह अपनी कार्य क्षमता को बेहतर व स्वस्थ बनाए रखता है।

इसकी मदद से शरीर में एक नियंत्रण पैदा होता है, जो हमें कुछ भी अनाप-शनाप ना खाने की आत्मशक्ति देता है।

टमी कम करने के उपाय में व्रत का सहारा एक बहुत ही असरदार और कारगर उपाय है।

अगर आप 1 दिन का पूरा व्रत नहीं कर सकते तो कुछ ऐसा खाएं जो शरीर के लिए पचाने में आसान हो।

जैसे आप किसी भी पिया पदार्थ और फल का सेवन कर सकते हैं जिसमें शक्कर की मात्रा ना हो।

आप सूप, दूध, जूस, नीबू पानी, सब्जियों का सलाद, फ्रूट सलाद इत्यादि चीजों को प्राथमिकता दे सकते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें सलाद पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद होता है, इसके साथ साथ सलाद पेट और कमर कम करने में भी कारगर साबित होता है।

यह भी पढ़ें:

Ayurvedic Fat Burning Tablets | 9 Important Ayurvedic Herbs

नियमित रूप से बादाम का सेवन करें

अक्सर आपने लोगों को यह कहते सुना होगा कि बदाम खाने से दिमाग तेज होता है।

पर आप यह जानकर चौक जाएंगे की, बदाम टमी कम करने के उपाय में भी उपयोगी है।

बदाम में कुछ ऐसे तत्व भी पाए जाते हैं, जिनकी मदद से यहा बड़े हुए पेट को कम किया जा सकता है।

अगर कोई अमीनो एसिड वजन कम करने में सबसे महत्वपूर्ण होता है तो कहा है ओमेगा-3 और बादाम में यह एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।

इसलिए बदाम स्वाद में तो अच्छा होता ही है, इसके साथ यह पेट और कमर पतली करने के उपाय कारगर साबित होता है।

बेहतर परिणाम पाने के लिए नियमित रूप से रोज 6 से 8 बदाम रात में भिगो कर सुबह दूध के साथ सेवन करें।

Buy Now! garcipan

यह भी पढ़ें:

Ayurvedic Weight Lose Tablets 2020 | Top 4 Reasons of Weight Gain

नियमित रूप से व्यायाम करें

जैसा कि आप जानते ही होंगे कि रोज एक्सरसाइज और व्यायाम करने से टमी, पेट और कमर की चर्बी कम होती है।

टमी कम करने के उपाय में वयम एक बहुत ही असरदार और कारगर उपाय है।

क्योंकि यह प्रक्रिया करने से शरीर में से बहुत अधिक मात्रा में पसीना निकलता है।

जिसके परिणाम स्वरूप शरीर में जो भी फंसी हुई चर्बी होती है वह स्वाभाविक रूप से घट जाती है।

नियमित रूप से व्यायाम करने से शरीर में फुर्ती और चुस्ती आती है, साथ ही आलस्य खत्म हो जाता है।

अगर आप ज्यादा एक्सरसाइज और व्यायाम नहीं कर सकते, तो आप सूर्य नमस्कार की कुछ आसान क्रियाएं करके संपूर्ण लाभ उठा सकते हैं, जैसे –

  • पदमासन
  • भुजंगासन
  • शलभासन
  • सर्वागासन
  • वज्रासन

नियमित रूप से सूर्य नमस्कार करने से तन के साथ-साथ मन भी स्वस्थ रहता है।

तो इस प्रकार बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय में सूर्य नमस्कार एक विशेष और महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

यह भी पढ़ें:

पेट की चर्बी कम करने की दवा 2020 | आयुर्वेदिक औषधि

खानपान में प्रोटीन की मात्रा बढ़ाएं

जैसा कि आप सभी जानते होंगे कि प्रोटीन शरीर के लिए और मांसपेशियों की विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है।

उसके साथ साथ प्रोटीन का सेवन करना टमी कम करने के उपाय मैं भी एक कारगर विकल्प है।

आपको हमेशा ऐसा प्रोटीन खाना चाहिए जिसमें फैट की मात्रा बिल्कुल भी ना हो, जैसे –

  • अंडे का सफेद भाग
  • मछली
  • चिकन
  • लाल मांस

और यदि आप शाकाहारी है, तो –

  • आलू
  • ओट्स
  • बादाम
  • मसूर की दाल
  • पनीर
  • नट्स
  • बीज
  • दूध
  • दही
  • अंडा

इन खाद्य पदार्थों का सेवन कर सकते हैं।

प्रोटीन हमारी मांसपेशियों को मजबूत करता है और शरीर को प्रोटीन बचाने के लिए बहुत अधिक ऊर्जा की जरूरत होती है।

मांसपेशियों के बनने से शरीर का फैट खत्म हो जाता है, जिसके परिणाम स्वरूप हमारे शरीर से मोटापा, चर्बी खत्म हो जाते हैं और टमी, पेट, कमर पतले होने लगते हैं।

यह भी पढ़ें:

शाकाहारी कीटो आहार भोजन सूची और आयुर्वेदिक उपाय

टमी कम करने के उपाय और घरलु नुसके

आपकी जीवनशैली में थोड़े से परिवर्तन, बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय की तरह काम करेंगे।

पर आपको यहा परिवर्तन नियमित रूप से करने होंगे, उसके पश्चात ही आप अपनी समस्याओं का समाधान पा सकते हैं, जैसे –

एलोवेरा के जूस का सेवन

यदि आप रोज सुबह खाली पेट आधे ग्लास गुनगुने पानी के साथ दो चम्मच एलोवेरा जूस और एक चम्मच जीरा पाउडर के मिश्ररण का सेवन करें।

बेहतर परिणाम पाने के लिए कृपया आप इस मिश्रण के सेवन के 60 मिनट तक कुछ ना खाएं।

बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय में एलोवेरा जूस का एक महत्वपूर्ण योगदान है।

नियमित रूप से एलोवेरा का सेवन करने से शरीर में चर्बी जमा नहीं होती इसके साथ शरीर का मेटाबॉलिज्म भी ठीक रहता है।

खरबूज का सेवन

खरबूज के सेवन करने से भूख कम लगती है, जिसकी मदद से हम ज्यादा समय तक अपनी भूख पर नियंत्रण कर सकते हैं।

इसके साथ खरबूज के सेवन से शरीर में पानी की मात्रा भी बढ़ती है इसके परिणाम स्वरूप वजन का बढ़ना भी रुकता है।

कमर पतली करने के उपाय में खरबूज विशेष और अति आवश्यक भूमिका निभाता है।

यह भी पढ़ें:

Veg Keto Diet Food List with Ayurvedic medicine

शहद का सेवन

पेट और कमर कम करने के तरीके के लिए शहद का सेवन भी फायदेमंद होता है।

जैसा कि आप सभी जानते होंगे कि शहर स्वाद में बहुत मीठा होता है।

अगर आप शायद का नियमित रूप से सेवन करते हैं, तो आप कुछ ही दिनों में यहां पाएंगे कि आपके पेट पर जमा चर्बी कुछ दिनों में ही गायब हो गई है।

इसलिए आपको रोजाना खाली पेट सुबह गुनगुने पानी के साथ शहद को मिलाकर पीना है और कुछ ही दिनों में आपको आपके शरीर में घटते हुए मोटापे का फर्क दिखाई देगा।

पुदीने का सेवन

आपने अक्सर पुदीने की चटनी तो खाई होगी और इसके पास से भी वाकिफ होंगे।

पर आपको पता है, अगर आप पुदीने के साथ हरा धनिया मिलाकर इसकी चटनी बनाएं।

तो टमी कम करने के उपाय में पुदीने का सेवन बहुत कारगर साबित होता है।

नींबू का सेवन

आपने अक्सर अपने दैनिक जीवन में नींबू की शिकंजी का सेवन किया होगा यह आम तौर पर फायदेमंद होती है।

पर क्या आप यह जानते हैं कि अगर आप गुनगुने पानी के साथ नींबू का रस मिलाकर पिए।

तो आप अपने शरीर के मोटापे और चर्बी को बहुत हद तक आसानी से कम कर सकते हैं।

विशेष बात – अगर आप ऊपर दिए गए सभी उपाय और घरलु नुसके को पूरी निष्ठा, इमानदारी, नियम और 7 – 8 घंटे की पर्याप्त नींद के साथ रोजाना करते हैं।

तो आपको बढ़ा हुआ पेट, कमर और टमी कम करने में आसानी होगी।

यह भी पढ़ें:

तुरंत मोटापा कम कैसे करे | आयुर्वेदिक उपाय के साथ

टमी कम करने की आयुर्वेदिक दवा

Ayurvedic AGGRIPURE-GARCIPAN for weight loss
टमी कम करने के उपाय

अगर आप अपनी बैली फैट से परेशान है और वाकई में इस से निजात पाना चाहते हैं, तो आपके लिए एकमात्र विकल्प है आयुर्वेदिक दवा का सेवन।

आयुर्वेदिक दवा वह हर संभव प्रयास करेगी जो आपके वजन कम करने में लाभदायक है।

आयुर्वेदिक दवा इसलिए भी कारगर साबित होती हैं क्योंकि यह प्राकृतिक रूप से बनाई जाती हैं और इन का कार्य करने का तरीका भी स्वाभाविक होता है।

इसके साथ यह कभी भी किसी भी तरह का दुष्प्रभाव नहीं दिखाती।

अगर आप नियमित और पूरी निष्ठा के साथ आयुर्वेदिक दवा का सेवन करते हैं, तो यह आपको कभी भी निराश नहीं करेंगे।

चाहे वह बैली फैट कम करना हो या टमी फैट कम करना हो या बड़ा हुआ पेट कम करना हो या पेट और कमर कम करनी हो, यह क्षेत्र में कारगर और विश्वास पूर्ण साबित होते हैं।

वजन कम करने की आयुर्वेदिक दवा कहां से लें?

अगर आप बाजार में आयुर्वेदिक दवा लेने जाए तो हम यह देख सकते हैं कि हर कंपनी अपनी दवा तो आयुर्वेदिक होने का दावा करती है।

कंपनी यह बात का भी दावा करती है कि उसकी दवा असली आयुर्वेदिक दवा है।

जो प्राकृतिक रूप से निर्मित है और बिना किसी दुष्प्रभाव के स्वाभाविक रूप से कार्य करती है।

आपको अपने लिए और अपने स्वास्थ्य के लिए सही आयुर्वेदिक दवा चुनने की समझ होनी चाहिए।

इसके लिए आप दवा खरीदने से पहले कस्टमर रिव्यू और दवा में शामिल सामग्री को एक बार जरूर विशेष रूप से देखें।

टमी कम करने के उपाय में आयुर्वेदिक दवा एक बहुत ही असरदार और कारगर उपाय है।

मोटापा कम करने के लिए एग्रीप्योर गार्शिपन प्लस

अगर आप अपने स्वास्थ्य की बेहतरी के लिए आयुर्वेदिक दवा लेने का निश्चय कर चुके हैं।

तो आप एक बार एग्रीप्योर गार्शिपन प्लस को भी इस्तेमाल करके देख सकते हैं।

यह दवा पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक है, जो कई वजन घटाने के आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के मिश्रण से बनाई गई है।

टमी कम करने के उपाय में  एग्रीप्योर गार्शिपन प्लस एक महत्वपूर्ण, विशेष और स्थाई विकल्प है।

एग्रीप्योर गार्शिपन प्लस की विशेषता और सेवन की प्रक्रिया

  • इस दवा को कोई भी उम्र का व्यक्ति खा सकता है।
  • यह पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के मिश्ररण से बनाई गई है।
  • जहां तक दवा आपके शरीर के कैरेक्टर लेवल को कम करने में भी मदद करती है।
  • इस दवा के आपको प्रतिदिन दो टेबलेट लेने होंगे एक सुबह नाश्ते के बाद और एक रात्रिभोज के बाद।
  • यह आपके शरीर रहा आपके शरीर की चर्बी कम करने में मदद करता है।
  • टेबलेट आपके शरीर की मोटापा, वजन और चर्बी कम करने में मदद करती है।
  • यह दवा आयुर्वेदिक होने के कारण थोड़ा धीरे असर करती है, पर इसका असर बिना किसी दुष्प्रभाव के साथ स्थाई रूप से लंबे समय तक रहता है।
  • बेहतर परिणामों के लिए दवा का पूरा 3 महीने का कोर्स अवश्य करें, जिससे आपको आपके मनचाहे परिणाम प्राप्त होंगे।
बोनस और उपहार

आप इस लेख को इस अंत तक पढ़ रहे हैं, तो आपके लिए मेरे पास एक बोनस है, अगर आप एग्रीप्रीयर के गार्लिप्सन प्लस (बढ़ा हुआ पेट कम करने के लिए दवाई) का 3 महीने का पैक खरीदते हैं तो आपको अपने ऑर्डर पर 10% की छूट मिलेगी।

अधिक जानकारी के लिए, आप कॉल कर सकते हैं: + 91-7906127882 और 3 महीने के पैक पर अतिरिक्त 10% प्राप्त करने के लिए ’10DISC’ कोड का उपयोग करें।

अभी खरीदें!!!

Buy Now! garcipan